प्रकृति संरक्षण में महत्वपूर्ण है पौधारोपण : प्रो. बत्रा


महाविद्यालय में रा.से.यो. छात्रा इकाई द्वारा हरेला सप्ताह का किया गया शुभारम्भ


अमर शहीद श्री देव सुमन के योगदान का किया गया स्मरण

एस एम जे एन पीजी कॉलेज में राष्ट्रीय सेवा योजना छात्रा इकाई की स्वयंसेवियों ने प्राचार्य प्रो. सुनील कुमार बत्रा के निर्देशन में हरेला पखवाड़े का शुभारम्भ किया गया। मेरी माटी मेरा देश कार्यक्रम के अन्तर्गत हरेला सप्ताह मनाने के निर्देशानुसार स्वयंसेवियों ने विभिन्न प्रकार के फल, फूल एवं औषधीय पौधे रोपित किये गये।


इस अवसर पर काॅलेज के प्राचार्य प्रो. सुनील कुमार बत्रा ने राष्ट्रीय सेवा योजना छात्रा इकाई की स्वयंसेविकाओं का उत्साहवर्धन करते हुए कहा कि छात्राओं द्वारा वृक्षारोपण करना प्रकृति संरक्षण में महत्वपूर्ण उत्तरदायित्व है, क्योंकि हमें प्राणवायु हेतु वृक्षों पर ही निर्भर होना पड़ता है। जीवन के विशेष उत्सवों पर प्रत्येक व्यक्ति को वृक्ष रोपित करके पर्यावरण संरक्षण में अपना योगदान देना चाहिए।


डाॅ. सुषमा नयाल, राष्ट्रीय सेवा योजना अधिकारी ने वृ़क्षों का महत्व बताते हुए कहा कि प्रत्येक व्यक्ति को अपने जीवन में एक वृक्षरोपित एवं वृक्ष की देखभाल प्रकृति एवं मानवहित में करनी चाहिए। वृक्षारोपण कार्यक्रम में प्रो. तेजवीर सिंह तोमर, डाॅ. संजय कुमार माहेश्वरी, प्रो. जे.सी. आर्य, डाॅ. शिव कुमार चौहान, डाॅ. मनोज कुमार सोही, डाॅ. वन्दना सिंह, कु. योगेश्वरी द्वारा वृक्षारोपण किया गया तथा राष्ट्रीय सेवा योजना की स्वयंसेविका प्रीति, ममता रावत, श्वेता निषाद, दीपांशी बेदी, जाहन्वी रावत, प्रेरणा सिंह, किरण, ईशा केसरी, उमा, मनीषा अग्रवाल, नवीशा, आशना आदि द्वारा औषधीय एवं फलदार वृष रोपित कर हरेला पखवाड़े में अपना योगदान दिया गया।


महाविद्यालय में आज में अमर शहीद श्री देव सुमन की पुण्यतिथि पर उन्हें भावपूर्वक नमन् किया गया। प्राचार्य कक्ष में आयोजित एक बौद्धिक गोष्ठी में प्राचार्य प्रो. सुनील कुमार बत्रा ने कहा कि अमर शहीद श्री देव सुमन ने शोषणपूर्ण राजशाही के विरूद्ध जो गांधीवादी अहिसंक तरीकों से आन्दोलन किया, वह प्रत्येक उत्तराखण्डवासी के लिए प्रेरणादायक है।


अधिष्ठाता छात्र कल्याण डाॅ. संजय कुमार माहेश्वरी ने युवाओं को श्री देव सुमन के पद्चिन्हों पर चलने का आह्वान किया।
राजनीति विज्ञान विभागाध्यक्ष विनय थपलियाल ने अमर शहीद श्री देव सुमन के व्यक्तित्व पर प्रकाश डालते हुए कहा कि उनका सम्पूर्ण व्यक्तित्व समानता और स्वतंत्रता के आदर्शों पर टिका हुआ है।
इस अवसर पर समाजशास्त्र विभागाध्यक्ष प्रो. जे.सी. आर्य , वैभव बत्रा, वैभव शर्मा, डॉ विजय शर्मा भी उपस्थित रहे।

  • Related Posts

    भगवान शिव को प्रिय है श्रावण मास:श्रीमहंत रविंद्रपुरी

    हरिद्वार अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद एवं श्री मनसा देवी मंदिर ट्रस्ट के अध्यक्ष श्रीमहंत रविंद्रपुरी महाराज ने सावन के पहले सोमवार पर निरंजनी अखाड़ा स्थित चरण पादुका मंदिर में कांवड़…

    अखाड़ा परिषद अध्यक्ष ने की राज्य कैबिनेट के निर्णय का स्वागत

      उत्तराखंड के चारों धाम श्रद्धालुओं की आस्था का केंद्र हैं : रविंद्रपुरी अखाड़ा परिषद मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी का स्वागत,अभिनंदन करेगा   हरिद्वार। अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद एवं मनसा…

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *

    You Missed

    भगवान शिव को प्रिय है श्रावण मास:श्रीमहंत रविंद्रपुरी

    • By Admin
    • July 22, 2024
    • 3 views
    भगवान शिव को प्रिय है श्रावण मास:श्रीमहंत रविंद्रपुरी

    अखाड़ा परिषद अध्यक्ष ने की राज्य कैबिनेट के निर्णय का स्वागत

    • By Admin
    • July 20, 2024
    • 3 views
    अखाड़ा परिषद अध्यक्ष ने की राज्य कैबिनेट के निर्णय का स्वागत

    मां भगवती की शक्ति से बड़ी संसार में कोई शक्ति नहीं:श्रीमहंत रविंद्रपुरी

    • By Admin
    • July 14, 2024
    • 3 views
    मां भगवती की शक्ति से बड़ी संसार में कोई शक्ति नहीं:श्रीमहंत रविंद्रपुरी

    Haridwar News जिस्मफिरोशी में लिप्त 8 महिलाओं सहित 19 आरोपी दबोचे

    • By Admin
    • July 12, 2024
    • 5 views
    Haridwar News जिस्मफिरोशी में लिप्त 8 महिलाओं सहित 19 आरोपी दबोचे

    गंगा की स्वच्छता की स्वच्छता को लेकर धरने पर बैठे पत्रकार रामेश्वर गौड़

    • By Admin
    • July 12, 2024
    • 6 views
    गंगा की स्वच्छता की स्वच्छता को लेकर धरने पर बैठे पत्रकार रामेश्वर गौड़

    वित्त मंत्री डाॅ. प्रेम चन्द अग्रवाल ने पुनर्गठन विभाग के अधिकारियों के साथ विभागीय समीक्षा बैठक की

    • By Admin
    • July 12, 2024
    • 7 views
    वित्त मंत्री डाॅ. प्रेम चन्द अग्रवाल ने पुनर्गठन विभाग के अधिकारियों के साथ विभागीय समीक्षा बैठक की